सरकार का केवल एक धर्म है - इंडियाफर्स्ट (भारत सर्वोपरि)!

सरकार की केवल पवित्र पुस्तक है - संविधान।

सरकार को केवल एक भक्ति में लीन रहना होगा – भारतभक्ति !

सरकार की केवल एक शक्ति है – जनशक्ति !

सरकार का सिर्फ एक संस्कार है -125 करोड़ भारतीयों की कुशलता!

सरकार की एक ही आचार संहिता होनी चाहिए – सबका साथ, सबका विकास!

: नरेन्‍द्रमोदी

 

स्वतंत्र भारत के इतिहास में ऐसा कोई भी राजनेता नहीं हुआ है, जिसने सर्व समावेशी एकता का ऐसा ज़बर्दस्त और परिपक्व संदेश दिया हो।

नरेन्‍द्र मोदी भारत में होने वाले सामान्य राजनीतिक संवाद से काफ़ी आगे निकल गए हैं। भारत में राजनीतिज्ञ अक्सर एक समूह की भावनाएं दूसरों के ख़िलाफ़ भड़काकर वोट बैंक को पाला-पोसा करते हैं। वहीं कुछ नेता एक धर्म को दूसरों के ख़िलाफ़ और कई नेता एक जाति को दूसरों के ख़िलाफ़ खड़ा करते हैं। कुछ राजनीतिक दल औद्योगिक विकास के ख़िलाफ़ जन भावनाएं भड़का कर चुनाव के दौरान उसका लाभ उठाते हैं।

ऐसे समय में , नरेन्‍द्र मोदी के विचारों ने नए विचारों का संचार करते हुए एकता के सही मायने पर बहु-प्रतीक्षित विकल्प प्रस्तुत किया। नरेन्‍द्र मोदी एकता और समावेशन के दूत बनकर उभरे हैं और उन्होंने गुजरात में दिखा दिया है कि उनके शब्दों को कैसे मूर्त रूप दिया जा सकता है ।

कार्यालय में उनके कार्यों, उनकी नीतियों और उनके भाषणों में हर जगह सबका साथ, सबका विकास संदेश गुंजायमान होता है। सबसे अहम बात ये है किउन्होंने इस मिथक को तोड़ा है कि एक जाति, समुदाय, धर्म, गांव, शहर या सेक्टर का विकास दूसरे की कीमत पर होता है। उन्होंने दिखा दिया है कि किसी का विकास, उन्नति और प्रगति दूसरे की कीमत पर नहीं होनी चाहिए, बल्कि विकास की प्रक्रिया में सबको शामिल करना चाहिए।

इस बीच एक बड़ी घटना अक्टूबर 2013 को उस समय घटीजब वह पटना में हुंकार रैली को संबोधित करने गए थे। उनका भाषण शुरु होने ही वाला था कि ऐतिहासिक गांधी मैदान में बम फूटने लगे। कोई अन्य नेता होता तो विचलित हो जाता या आतंकी योजना के ख़िलाफ़ भारी भीड़ को उकसाता। उस समय कोई भी तैयार भाषण काम नहीं आता। ऐसे हालात में नरेन्‍द्र मोदी ने दिल से अपनी बात रखते हुए हिंदुओं और मुसलमानों को एक शांति और एकता का दमदार संदेश दिया। उन्होंने आह्वान किया कि हिंदू और मुसलमानों को एक दूसरे से लड़ने की बजाय मिलकर गरीबी से लड़ना होगा। देश ऐसे ही आगे बढ़ेगा।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह देहरादून में

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह देहरादून पहुंच गए हैं। बतौर भाजपा अध्यक्ष ...

पूरा पड़ें

नारी निकेतन में संवासिनियों के उत्पीड़न मामले में असली गुनेहगार सफेदपोश हैं

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत ने कहा कि नारी निकेतन में संव...

पूरा पड़ें

सुषमा स्‍वराज ने कहा, केंद्र जल्द ही लेगा ग्रीन बोनस पर फैसला

देहरादून पहुंची विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि केन्द्र सरकार...

पूरा पड़ें

गैरसैण में विधानसभा सत्र के पहले ही दिन विपक्ष ने सी डी मामले में चर्चा कराने की मांग

गैरसैण में विधानसभा सत्र के पहले ही दिन विपक्ष ने सी डी मामले में...

पूरा पड़ें

नितिन गडकरी ने उत्तराखंड को 25 हजार करोड़ रुपये की सड़कों का तोहफा दिया

हरिद्वार। आज हरिद्वार पहुंचे केंद्रीय भूतल व परिवहन मंत्री नितिन ...

पूरा पड़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऋषिकेश पहुंचे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को ऋषिकेश पहुंचे जहां वह दयानं...

पूरा पड़ें

मेरा पता

तीरथ सिंह रावत

भाजपा राष्ट्रीय सचिव / पूर्व प्रदेश अध्यक्ष / पूर्व शिक्षा मंत्री

ग्राम एवं डाकघर - सीरों, पट्टी असवालस्यूं
पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखण्ड , 246155
भारत

  +91.94120 04626

  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.

  contact